Chull News
ब्रेकिंग न्यूज़
वीडियो समाचार सुल्तानपुर

चोरी हुई बाइक का फोटो सहित दो बार हो चुका चालान, फिर भी नही पकड़े गए बाइक चोर, कब खुलेगा राज

यूपी पुलिस के लाख दावों के बावजूद कभी कभी ऐसी खबरें आ जाती हैं, जो आप को सोचने पर मजबूर कर देंगी। तीन महीने पहले चोरी हुई गाड़ी का उसी जिले में दो दो चालान हो चुका है, लेकिन चोरी की गाड़ी अभी लापता है। चोरी के एफआईआर दर्ज हुई, दो बार चालान हुआ, जिसकी शिकायत हुई, बावजूद इसके चोर गाड़ी लेकर लापता है। लेकिन कार्यवाही अभी तक शून्य है।

दरअसल ये मामला है लंभुआ कोतवाली का, जहां लंभुआ तहसील आवास के बगल रहने वाले आशुतोष मौर्या की मोटरसायकिल बीते 9 अप्रैल की रात घर के बाहर से चोरी हो गई। आशुतोष ने इसकी लिखित शिकायत लंभुआ पुलिस से की, इस मामले में पुलिस चोरों की तलाश कर रही हैं। हैरानी की बात तो ये है कि चोरी अप्रैल को हुई, बावजूद इसके इस गाड़ी का दो बार चालान हो चुका। पहला चालान गाड़ी चोरी होने के 12 दिन बाद 21 अप्रैल को सुलतानपुर की नगर कोतवाली के अमहट में हुआ। वहीं हैरानी तो तब हुई जब तीन दिन बाद 24 अप्रैल को इसी गाड़ी का दूसरी बार चालान ह्यो गया। सब कुछ तो ठीक रहा लेकिन सबसे बड़ी बात कि चालान के दौरान एक व्यक्ति की फ़ोटो भी खींची गई। उधर आशुतोष ने लगातार आरटीओ के विभिन्न एप पर इसकी स्थिति देखते रहे। तीन दिन के दौरान लगातार दो बार चालान होता देख आशुतोष के होश उड़ गए। आनन फानन थाना प्रभारी समेत आलाधिकारियों से शिकायत की गई। तब से अब तक करीब ढाई महीने बीत चुके हैं,लेकिन अब तक न गाड़ी का पता चल सका और न चोर का, वहीं पीड़ित हाथ पर हाथ धरे बैठने को मजबूर है। और अधिकारी काम का बहाना बनाकर टालने को, खैर इस खबर को चलाने का मकसद केवल यही है कि जब गाड़ी चोरी हो चुकी है, परमानेंट चालान भी किया जा रहा है तब भी पुलिस चोरों को क्यों नही पकड़ पा रही। आशा एवं विश्वास है कि नवागंतुक पुलिस अधीक्षक….. लंभुआ के इस चौकाने वाले मामले पर जरूर संज्ञान लेंगे। नही भी लेंगे तो कोई बात नही, हमारा काम है याद दिलाना और फिर याद दिलाएंगे

Related posts

डिप्टी सीएम केशव मौर्य के बड़ा बयान,हार का चौका लगा चुके अखिलेश यादव, हार का कीर्तिमान करेंगे स्थापित

Chull News

डबल मर्डर के मामले में परिजनों ने अंतिम संस्कार से किया इनकार।परिजन अड़े,CO SDM समझाने में जुटे

Chull News

एमपी-एमएलए कोर्ट में पूर्व विधायक सोनू सिंह व उनके भाई मोनू सिंह से जुड़ी बेल कैंसिलेशन अर्जी पर बहस कल,टिकी सभी की निगाहें* *जिला पंचायत अध्यक्ष ऊषा सिंह ने दोनो भाइयो पर जमानत की शर्तों के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए उनकी जमानत खारिज करने की दाखिल की है याचिका,करीब पांच महीने से चल रही है मामले में सुनवाई। ऊषा सिंह का आरोप है कि इलाहाबाद की एमपी-एमएलए कोर्ट ने अपराध में संलिप्तता पाये जाने पर जमानत वापस ले सकने की शर्त रखकर दी थी जमानत। दोनो भाइयो पर कई मुकदमे दर्ज होने एवं मुकदमो की लगातार बढोत्तरी होने का है आरोप,फिलहाल दोनो भाई मुकदमो को राजनैतिक रंजिश का बता रहे परिणाम।

Chull News

Leave a Comment