Chull News
ब्रेकिंग न्यूज़
वीडियो समाचार सुल्तानपुर

पुलिस और बदमाशों के बीच हुई इस मुठभेड़ में इस बड़ी घटना का हुआ खुलासा

सुलतानपुर में बीते 28 जून को माँ बेटी की निर्मम हत्या के मामले में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। घटना के आरोपी हत्यारे को पुलिस से आज देर शाम एक मुठभेड़ में गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस मुठभेड़ में जहां एक सिपाही गोली लगने से घायल हो गया वहीं जवाबी कार्यवाही में बदमाश के पैर में गोली लगी है। फिलहाल दोनों घायलों को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। वहीं ग्घटना की जानकारी लगते ही एसपी समेत तमाम पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच चुके हैं।

 दरअसल बीते 28 जून को लंभुआ कोतवाली के स्टेशन गली के रहने रामसुख मौर्य की पत्नी शकुंतला और बेटी विजय लक्ष्मी की निर्मम हत्या कर दी गई थी। घटना के बाद बदमाश मौके से फरार हो गए थे।  इसी मामले में पुलिस सरगर्मी से हत्यारों की तलाश कर रही थी। अपने तंत्र के जरिये आज पुलिस ने शाबाज, इरफान और उसके सगे भाई सादान जुर्फ़ नादान को गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस के अनुसार शादाब इसी लंभुआ का रहने वाला है जबकि इरफान और सादान अम्बेडकर नगर के रहने वाले हैं। पुलिस के अनुसार इरफान इस परिवार से व्यतिगत रंजिश रखता था, लिहाजा इरफान ने करीब 15 दिनों पहले ही इस घटना को अंजाम देने की सोच रखी थी। बीते 28 जून को इन तीनो ने मिलकर पहले विजय लक्ष्मी की हत्या की, वहीं जब मौके पर पहुंची तो उसे भी मौत के घाट उतार दिया और मौके से फरार हो गए थे। पुलिस ने आज शाम को ही इन तीनो को गिरफ्तार कर लिया था। साथ ही आलाकत्ल की बरामदगी के लिये इरफान को ले गई। जहां इरफान ने पहले से असलहा छुपा रखा था। असलहा लेते ही इरफान ने पुलिस पर हमला बोल दिया जिसमें शैलेन्द्र प्रताप सिंह नाम का सिपाही घायल हो गया। वहीं कवाबी कार्यवाही में पुलिस ने भी फायरिंग जो इरफान के पैर में लगी। फिलहाल मुठभेड़ के बाद इन दोनों को इलाज के लिये सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती करा दिया गया है।

Related posts

पूर्व सांसद फूलन देवी के जन्म दिवस की पूर्व संध्या पर मोस्ट कल्याण संस्थान ने लगाया रक्तदान शिविर

Chull News

पूर्वमंत्री जंग बहादुर सिंह समेत 4 हत्या के मामले में दोषी करार,न्याय न मिलने पर खड़े किये सवाल

Chull News

सुल्तानपुर के नवागत जिलाधिकारी रवीश गुप्ता ने लगाया जनता दरबार, उमड़े फरियादी

Chull News

Leave a Comment